॥दस्तक॥

गिरते हैं शहसवार ही मैदान-ए-जंग में, वो तिफ़्ल क्या गिरेंगे जो घुटनों के बल चलते हैं

तुम जियो हजारों साल कविराज

Posted by सागर नाहर on 8, दिसम्बर 2006

आदरणीय समीर लाल जी के नये चेले और हम सब को अपनी कविताओं और हायकू   से प्रसन्न करने वाले कविराज उर्फ़ गिरीराज जोशी का आज जन्म दिन है, मेरी तरफ़ से उन्हें लाख लाख बधाईयाँ 🙂

आज सुबह से नैट का कनेक्शन बंद था क्यों कि मैने आज से टाटा का कनेक्शन लिया है 256Kbps  वाला सो सुबह से  पता ही नहीं चला कि आज उनका जन्म दिन है।

मुझे हँसाने के लिये भुवनेश जी को विनती करती आज ही उनकी पोस्ट पढ़ी, अफ़सोस आज आज मैं उन्हें  समय पर बधाई देकर हँसा ना सका।

123.JPG

Advertisements

11 Responses to “तुम जियो हजारों साल कविराज”

  1. शुक्रिया सागर भाई

  2. कविराज को जन्‍मदिन की हार्दिक शुभकामनाऐं,:-)
    और भाई साहब आपको भी टाटा का 256 केबीपीएस का कनेक्‍शन लेने के लिये भी बधाई 🙂

  3. नीरज दीवान said

    साथी गिरिराज जोसी जी को जन्मदिवस पर हार्दिक शुभकामनाएं.. ब्लॉगजगत उनकी रचनाओं से महकता रहे… जोशी जी का यह साल मंगलमय हो..

  4. गिरिराज जी को बधाई

  5. आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद.

  6. हमारी ओर से भे बधाई टीका लो.

  7. SHUAIB said

    चंद लोग मज़ाक़ मे कहते हैं कि अगर कोई कहे “तुम जियो हज़ारों साल” ये तो गाली है – क्यों और पाप करने के लिए उम्र बढाई की दुआ कर रहे हो।
    मगर मेरी दुआ है कि गिरीराज जोशी साहब का वर्ष ख़ुशहाल रहे – जब तक वो जिएये मज़े मे जियें।

  8. SHUAIB said

    चंद लोग मज़ाक़ मे कहते हैं कि अगर कोई कहे “तुम जियो हज़ारों साल” ये तो गाली है – क्यों और पाप करने के लिए उम्र बढाई की दुआ कर रहे हो।
    मगर मेरी दुआ है कि गिरीराज जोशी साहब का हर वर्ष ख़ुशहाल रहे – जब तक वो जिये मज़े मे जियें।

  9. Nitin said

    गिरिराज जी को बधाई

  10. मेरी तरफ़ से भी बधाई जोशी जी को!

  11. आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: