॥दस्तक॥

गिरते हैं शहसवार ही मैदान-ए-जंग में, वो तिफ़्ल क्या गिरेंगे जो घुटनों के बल चलते हैं

Bunch of Jokers?…..really?

Posted by सागर नाहर on 1, अप्रैल 2007

पता नहीं इन जोकरों के समूह को क्या हो गया है अभी कुछ देर पहले टीवी पर समाचार देखा कि भारतीय क्रिकेट की पसंदगी समिती और BCCI की एक गुप्त बैठक मुंबई में हुई जिसमें भारतीय क्रिकेट टीम के लिये हरभजन सिंह को कप्तान  बनाया जाने पर विमर्श किया गया और सभी मौजूद सदस्यों ने इस प्रस्ताव का बहुमति से स्वागत किया। चयन समिती के अध्यक्ष किरण मोरे का कहना था कि हमें कप्तान ऐसे खिलाड़ी को बनाना चाहिये जिसके कप्तान बनने से उसके प्रदर्शन पर कोई खास प्रभाव नहीं पड़े। इससे पहले अच्छे अच्छे बल्लेबाज कप्तान बनने के बाद अपने प्रदर्शन को तनाव की वजह से खराब होने से नहीं रोक सके। और इस हिसाब से हरभजन से श्रेष्ठ कोई हो ही नहीं सकता।   यानि अब भारतीय के तारणहार हरभजन सिंह होंगे???  हे भगवान अब भारतीय टीम की लाज आपके हाथ में है……….

इस समिती में ग्रेग चैपल को हटाने और नये कोच को नियुक्त करने के बारे में भी विमर्श हुआ। सभी लोगों की मांग थी कि देशी यानि भारतीय कोच ही खिलाड़ियों को बेह्तर समझ और सिखा सकता है। कोछ के लिये तीन नाम आये संदीप पाटिल, मोहिन्दर अमरनाथ और अप्रत्याशित रूप से दोनों  ने अपने आप को कोच पद की रेस से हटाते हुए अपना नाम  वापस ले लिया और तीसरे उम्मीदवार मोहम्म्द अजहरूद्दीन को अपना समर्थन दे दिया। अब  वर्ल्ड कप के बाद अजहर भारतीय टीम के कोच होंगे।

 एक बार मोहिन्दर अमरनाथ ने चयन समिती को Bunch of Jokers कहा था  मुझे तो लगता है कि गलत नहीं कहा था। देखते हैं अब गुरू चेले की जोड़ी क्या गुल खिलाती है?

पूरी खबर यहाँ पढ़ें

Advertisements

14 Responses to “Bunch of Jokers?…..really?”

  1. मुझे तो यह फैसला सही लगता है। हरभजन उन महान बल्लेबाजों से तो अच्छा ही खेले और हाँ अजरुद्दीन एक समय देश के सबसे कामयाब कप्तान रह चुके हैं। उनके आने से अवश्य लाभ होगा।

  2. pankaj bengani said

    मैरे विचार से सुनिल गावस्कर को कप्तान बनाना चाहिए.. वे युवा हैं और उनमे अभी बहुत क्रिकेट बाकि है.. या फिर सैयद किरमानी को … वे भी ठीक हैं और अल्प संख्यक भी हैं… या फिर…. गगन खोडा को .. वे उम्र दराज तो हैं पर बेहतरीन बेट्समेन हैं और सुपर अल्प संख्यक हैं.. या फिर….. मोहिन्दर … वे भी.. या…..

  3. जोकरों की कमी नही है, जब मदारी शरद पवार जैसा हो।

    अब भारत को गैर खिलाड़ी कप्‍तान बनाने की प्रथा का प्रारम्‍भ करना चाहिये। जैसे टेनिस के डेविस कप आदि मे होता है। 🙂

  4. खूब अप्रैल फ़ूल बनाया सागर भाई ने…

  5. कैसा अप्रेल-फूल भाई?

    एक सही निर्णय हुआ है. स्वागत होना चाहिए.

  6. Tarun said

    क्या सागर भाई अप्रैल फूल बना रहे हैं उस लिंक वाली साईट के साथ, क्योंकि ये जोकरों का समूह तो २ या ३ या ४ में से किसी दो दिन बैठक करने वाला था 😉

  7. सही है। वैसे कोच के लिये जीतेंदर चौधरी के नाम पर काहे नहीं विचार हुआ? 🙂

  8. कोच के लिये जितेन्द्र चौधरी के नाम का प्रस्ताव का मै अनुमोदन करता हूं !
    टांग खिचने के एक्सपर्ट फुरसतियाजी को क्षेत्ररक्षण का कोच बना दिया जाये।

  9. […] का और दिन भर दिखते बुश के चित्र का और सागर की खबर जिसमें कड़ी देकर उन्होंने अपनी पोल […]

  10. Yaar laughter challenge mein Sunil Pal ke Ratan Nura jo coach banana chahta tha use hi bana de. Waise aaj jo sthiti hai usme koi bhi experiment chalega kyonki is haari hui team se accha hi khelegi.

  11. pushtimarg said

    अप्रेल फूल बनाने के चक्कर में आप चयन समिति के अध्यक्ष का नाम गलत लिख गये 🙂

  12. Amit said

    अरे यार अप्रैल फूल बनाना था तो कम से कम लिंक के पते का भेस तो बदल लेते tinyurl.com या snipurl.com द्वारा। पोस्ट पढ़ कोई समझे या न समझे, पता देखते ही कोई भी समझ जाएगा!! 😉

  13. हमारे पास भी कोच बनने के लिये आमंत्रण आया था. हमने कह दिया कि भईया, चिट्ठे से समय ही नहीं बच पाता आप किसी और को बना लो.

    -बहुत सही अप्रेल फूल बनाये हो सबको. 🙂

  14. […] तरीका मैने अपनी इस पोस्ट  से आजमाया। पोस्ट तो आप सबने […]

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: