॥दस्तक॥

गिरते हैं शहसवार ही मैदान-ए-जंग में, वो तिफ़्ल क्या गिरेंगे जो घुटनों के बल चलते हैं

63 सालों का इतिहास

Posted by सागर नाहर on 5, सितम्बर 2010

सुप्रसिद्ध व्यंग्यकार शरद जोशी ने लगभग बरसों पहले एक व्यंग्य लिखा था “तीस साल का इतिहास”! यह लेख जोशीजी ने उस जमाने की काँग्रेस के हालात पर लिखा होगा। आईये देखिये उस लेख के अनुसार कॉंग्रेस के तीस सालों का इतिहास और आज 63 सालों के इतिहास में कोई बदलाव आया है कि नहीं।

आज ही के दिन 5 सितम्बर 1991को शरद जोशी इस दुनिया से चले गये थे। उन्हें शत शत नमन्
लेख एवं चित्र स्व. शरद जोशी के जाल स्थल से साभार

Advertisements

12 Responses to “63 सालों का इतिहास”

  1. सागर भाई,

    आज के दिन आपने बेहतरीन तोहफ़ा दिया है… शरद जोशी के इतने साल पहले लिखे इस कथ्य की सच्चाई न तब बदली थी, न अभी बदली है…

    कांग्रेस को पूरी तरह से नंगा करती इस उत्तम पोस्ट के लिये हार्दिक धन्यवाद… आपका भी, जोशी जी का भी…

    आप इतने दिनों बाद आते हो, लेकिन धमाकेदार एण्ट्री देकर छा जाते हो… 🙂 थोड़ा जल्दी-जल्दी आया करो भाई… आपके चाहने वाले अभी भी बहुतेरे हैं…

  2. Basant d jain said

    Sagar bhai apki baat me dum he .. Congress jaha thi vahi he vahi rahegi chahe rahul gandhi lakh jatan kar le ye log nahi sudhrenge.. By the way sagarbhai ye sharad joshi “lapatagang” ke sharad joshi he ya koi aur ?

  3. जोशी जी के शब्द कल ही सामयिक नहीं थें आगे भी सामयिक रहने वाले हैं. कांग्रेस 125 साल से यूं ही है व्यक्तिवाद पर टिकी हुई…

  4. शरद जोशी का यह व्यंग्य मैंने पहली बार ही पढ़ा है । इसके लिए आपका आभारी हूँ । बहुत धाँसू चीज खोजकर लाए हैं ।

  5. dipak said

    sahi likha hai unhone…Sagar bhai aapne ise laya iske liye dhanyawaad. Jai sonia gandhi and rahul baba 🙂

  6. धन्यवाद सागरभाई पढकर अच्छा लगा ।

  7. Thank You Very Nice Türkiyeden selamlar

  8. Bahut hee sundar likha hai aapne.Sonia jee se bahut umeeden thee,par wo puri nahi hui.Rahul jee kosish kar rahe hain,par wo paryapt nahi hai.

  9. Iss film main ek hee plus point tha “sheila ki jawani” gaana.Wo bhi farah jee ne suru main daal diya.Ab darshak baithe to kyon baithe.Bahut ghatiya film thee.

  10. Anita Purohit said

    यह लेख प्रेषित करने के लिए धन्यवाद। सुरते हाल आज भी वही है इसलिए ये लेख आज भी उतना ही प्रासंगिक है जितना पहले था।

  11. javed said

    javed

  12. Ranjana said

    adbhud sanyog hai….
    bada achcha laga…
    aabhar…

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: