॥दस्तक॥

गिरते हैं शहसवार ही मैदान-ए-जंग में, वो तिफ़्ल क्या गिरेंगे जो घुटनों के बल चलते हैं

Archive for the ‘तकनीकी’ Category

आईये जीमेल में अदृश्य हो जायें

Posted by सागर नाहर on 27, मार्च 2008

Go “Invisible” in Gmail, Like Yahoo Messenger !

( दो दिनों पहले यह पोस्ट पोस्ट करने के तुरंत बाद  जीमेल से लोगों को अदृश्य होना सिखाता  उससे पहले चिट्ठा ही अदृश्य हो गया , पता नहीं क्या हुआ कि लोगों को पोस्ट दिखी ही नहीं। शायद कुछ टेम्पलेट में लोचा हो! फिलहाल टेम्पलेट पर काम चालू है पर कई मित्रों के आग्रह पर इसए पुन: प्रकाशित कर रहा हूँ)
क्या आप भी जीमेल में कईयों की तरह मेल चैक करने आते हैं और आपके ओनलाईन होते ही मित्रों से चैट करने को मजबूर हो जाते हैं? क्या आप याहू मेसेन्जर की तरह इनविजिबल  रहकर अपने किसी मित्र से चैट करना चाहते हैं?
आईये!!! इसका इलाज हमारे नितिन बागला जी ने खोज निकाला है और मुझे बताया है मैं आप सबको बता रहा हूँ।
सबसे पहले जाँच लीजिये कि आपने जीमेल का नया वर्जन प्रयोग कर रहे हैं। अब  Setting  में जाकर भाषा में  English US  पसन्द कर लीजिये

२ 

और अब इसे सेव कर लीजिये।

बस आपका काम हो चुका है, जहां से आप अपना स्टेटस बदलते हैं, वहाँ जा कर देख लीजिये.. चित्र क्रमांक २ की तरह दिखेगा।
Invisible  पर क्लिक करिये… देखिये आप औरों के लिये अदृश्य हो चुके हैं। देखिये चित्र क्रमांक ३

१     ३

जीमेल में इस तरीके से Invisible  रहते हुए अगर जीटॉक लोगिन किया जाये तो यह संदेश मिलता है Oops! You are not invisible because you’re also using desktop software that doesn’t support invisibility, such as Google Talk.

पुन्श्च: यह प्रयोग इन्टरनेट एक्स्प्लोरर 7  या  फायरफॉक्स 2+   में ही काम करेगा।

Posted in तकनीकी, technology | 6 Comments »

अपने लेख की लाईनों को हाईलाईट करिये

Posted by सागर नाहर on 11, जनवरी 2008

आप जब कोई पुस्तक पढ़ रहे होते हैं और उनमें से कोई लाईनें आपको पसन्द आ जाती है तो आप उन्हें हाईलाईटर पेन से चिन्हित कर लेते हैं। …..कुछ इस तरह।

आगे यहाँ पढ़ें

Posted in तकनीकी, सामान्य | 2 Comments »

खुशखबरी: गूगल का मेशप

Posted by सागर नाहर on 20, दिसम्बर 2007

गूगल ने प्रोग्रामर्स या  उन  लोगों की मदद के लिये जो जावास्क्रिप्ट या अन्य  भाषाओं  पर  काम करते हैं; के लिये गूगल मेशप या माशप) चालू किया है। चालू कब हुआ यह यह तो पता नहीं पर मुझे मेल आज ही मिली।  इस टूल की एक खास बात यह है कि हम चिट्ठाकार भी इस की मदद से चिट्ठों की सजावट के लिये बनाये जा रहे HTML कोड या अन्य तरह की स्क्रिप्ट इसमें लिख कर उनका परिणाम देख सकते हैं। इसमें अपने प्रोजेक्ट को सेव भी किया जा सकता है।

गूगल की सूचना के अनुसार अभी यह टेस्टिंग पीरीयड में है सो  सिर्फ कुछ ही लोगों को  इसकी सुविधा दी गई है, फिर भी अभी इसके लिये आवेदन किया जा सकता है।

HTML, Javascript, CSS और  XML में कोड लिखने के बाद उनका परिणाम देखना  नये और सीखने वाले लोगों के लिये  एक  मुश्किल काम था जो अब मेशप की वजह से बहुत ही  आसान हो गया है। मैने अपने घूमते ब्लॉगरोल के कोड को इसमें लिखा और उसका परिणाम देखा तो सफल रहा, इन चित्रों को देखिये।

1    चित्र १ नये प्रोजेक्ट बनाने के लिये

<gm:page title=“My App” authenticate=false>  और </gm:page> इन दो लाईनों के बीच में आपको अपने कोड लिखने है।

       2    चित्र २ यहाँ कोड को पेस्ट किया

         3  चित्र ३ यह परिणाम निकला

ज्यादा जानकारी के लिये नीचे दी गई कड़ियों  को देखे।

The Google Mashup Editor: http://editor.googlemashups.com
Getting Started Guide:  http://code.google.com/gme/gettingstarted.html
Screencast Gallery: http://code.google.com/gme/docs/screencasts.html
Discussion Board:  http://groups.google.com/group/google-mashup-editor
Documentation: http://code.google.com/gme/
Gallery: http://gallery.googlemashups.com

Posted in तकनीकी | 1 Comment »

पोस्ट में पोल कैसे लगायें?

Posted by सागर नाहर on 15, दिसम्बर 2007

How to use polls  in a blog post

कई बार जब हम चिट्ठा लिखते समय किसी खास विषय पर पाठकों की  टिप्पणी  के अलावा उनकी राय भी  जानना चाहते हैं तो हमें  उसके लिये चुनाव करवाना होता,  जिससे हम पाठकों की राय सही तरीके से  जान सकें। चुनाव करवाने के लिये हमें एक प्रश्न  पूछना होता है और उसके दो, तीन, चार या ज्यादा अनुमानित उत्तर देने होते हैं जिनमें से पाठक एक को चुन सके। उदाहरण के लिये लेख का विषय है गुजरात चुनाव!  तो प्रश्न हो सकता है ..इस गुजरात विधान सभा के चुनावों में किस पक्ष  की सरकार बनेगी.? भाजपा  या काँग्रेस ?

वर्डप्रेस.कॉम के चिट्ठों लिये तो   कई प्लग इन मौजूद है परन्तु ब्लॉगर में ऐसा कर पाना थोड़ा मुश्किल है। ब्लॉगर चुनाव की सुविधा देता है परन्तु सिर्फ साईडबार के एलीमेन्ट में ही! हमें हर बार  उसे बदलते रहना  असुविधाजनक होता है।  मैं चाहता था कि किसी पोस्ट  विशेष  के लिये पोल हो और वह हमेशा के लिये पोस्ट के साथ भी रहे।

मैने इस परेशानी का हल खोजा तो मुझे एक नहीं कई सारे टूल मिल गये।  कुछेक टूल  बढ़िया थे परन्तु  वे हिन्दी ( देवनागरी)  को सहयोग/समर्थन नहीं देते। मैने उस पर रोमन में लिखा और बाद में जो एच टी एम एल कोड मिला उसमें  अंग्रेजी ( रोमन) की बजाय़ हिन्दी में लिख कर  कोड को अपने  प्रयोग चिट्ठे पर आजमाया तो  सफल रहा। आप भी देखिये..  यहाँ ( वर्डप्रेस के मुफ्त के जाल स्थल पर इस तरह के कोड लगाने की सुविधा नहीं होने की वजह से दूसरा एक प्रयोग चिट्ठा बनाया है उसका लिंक दे रहा हूँ)

अन्य टूल का सीधा लिंक दे रहा हूँ, ताकि आप खुद अपने हिसाब से अपने चिट्ठे पर पोल कोड लगा सकें।

विज़ू यह सबसे बढ़िया है और परिणाम तुरंत ब्लॉग पर  ही बता देता है कहीं और ( दूसरे लिंक पर जाने की  जरूरत नहीं होती पर इसमें एक खामी है और वह यह कि इस साईट पर पंजीकरण करवाना होता है और  पोल बनाने के लिये एक लम्बी प्रक्रिया से गुजरना होता है।  फिर भी मुझे सबसे ज्यादा अच्छा यही लगा।

  poll 1             untitled 

 ब्लॉग फ्लक्स

नीचे दिये दोनों जाल स्थल के पोल को  मैने अपने प्रयोग चिट्ठे पर लगाया है और उसी का चित्र उपर दिया है।

ब्लॉग पोल

 फ्री पोल कोड 

*************

 

तो बताईये आपको यह पोस्ट कैसी लगी? बढ़िया, ठीकठाक या टाईम खोटी किया?

 

Technorati Tag: ,

Posted in तकनीकी | 9 Comments »

चिट्ठे के साईडबार में ताजा टिप्पणियां दिखायें

Posted by सागर नाहर on 6, दिसम्बर 2007

वर्डप्रेस पर बने चिट्ठों को के साईडबार में दिख रही ताजा टिप्पणीयों को देखकर कभी आपके मन में भी यह आता होगा कि काश  हमारे चिट्ठे ( ब्लॉगर)  के साईडबार में भी  इस तरह टिप्पणीयाँ दिख सके!

यह पोस्ट वर्डप्रेस पर काम करने वालों के लिये नहीं है क्यों कि वर्डप्रेस पर यह सुविधा पहले से ही मौजूद होती है बस उसके Widget  को साईडबार में खींचना ही होता है। आपका चिट्ठा अगर ब्लॉगस्पॉट पर है तो आईये आप भी अपने चिट्ठे पर ताजा टिप्पणीयाँ दिखाईये… बस नीचे दिये बटन पर राईट क्लिक कर Open  link in New Window  या Open link in new tab  पर क्लिक कीजिये….

और   बताये गये निर्देशों का पालन करते जाईये।

download-button1.png

देखिये कितनी आसानी से आपके चिट्ठे के साईडबार में टिप्पणियाँ दिखने लगी है। :)

Posted in तकनीकी | 14 Comments »

अपने चिट्ठे का फेविकोन बनाईये

Posted by सागर नाहर on 5, दिसम्बर 2007

कल फेविकोन पर पोस्ट लिखते ही कुछ ही देर में तो जीतू भाई और पर्यानाद जी ने अपनी टिप्पणीयों में फेविकोन बनाने के अलग अलग तरीके सुझा दिये, और उन तरीकों के आधार पर ज्ञानजी ने आनन फानन में अपने चिट्ठे पर “ज्ञ” लिख भी दिया।

मुझे लगता है कि मैं जो तरीका यहाँ बता रहा हूँ वह सबसे आसान है-

चलिये शुरु करते हैं

सबसे पहले माई फावतार पर जाकर लोगिन कर लें, संभव हो तो यूजर आई डी अंग्रेजी में और छोटा रखें

अब अपने पसंदीदा फोटो को यहाँ (फावतार पर) अपलोड कर दें और वापस आ जायें।

अब नीचे दिये शब्द Favicon,txt पर राइट किल्क कर फाइल को अपने कम्प्यूटर पर सेव कर लें।

favicon-code.txt

कोड में जहाँ nahar7772 लिखा हुआ है उसे हटा कर अपना यूजर आई डी लिख दें।

अब ब्लॉगर के डेशबोर्ड में जाकर Edit HTML में उपर से कुछ लाईनें छोड़कर देखिये <head> शब्द लिखा दिखेगा

head शब्द के नीचे आपके यूजर आईडी वाला कोड पेस्ट कर दें

प्रीव्यू देख लें, एड्रेस बार में आपका पसंदीदा चित्र दिखने लगा है, अब Save करें।

अब आराम से साम्यवादी विचारधारा वाले मित्र हंसिया हथौड़ा या लाल झंडा , हिन्दूत्व विचारधारा वाले केसरिया झंडा और ज्ञानदत्तजी रेल का इंजिन अपने चिट्ठे में जोड़ सकते हैं। :)

बस और फटाफट नया चिट्ठा लिख कर सबको जानकारी दें :)

यह पोस्ट नये सुधारों के सा्थ यहाँ पर भी उपलब्ध  है

Technorati Tag: ,

 

 

Posted in तकनीकी, technology | 12 Comments »

अपने लेख को अखबारी लेख की शक्ल दें

Posted by सागर नाहर on 18, नवम्बर 2007

आपने कई पुस्तकों या अखबारों के लेखों में देखा होगा कि कुछ खास लाइनों को अलग से बड़े अक्षरों में दिखाया जाता है। चिट्ठा जगत में आदरणीय फुरसतियाजी इस तरह का प्रयोग अक्सर करते हैं। उन्होने राग दरबारी में भी इस पुस्तक की खास बातों को अलग से किताब की तरह दिखाया है। यहाँ देखें

….और इस तरह सागर नाहर भारत के महानतम ब्लॉगरों में गिने जाने लगे। :)

यह देखने के बाद आपको भी लगता होगा कि आपकी रचनाओं की मुख्य बातों को भी अलग से दिखाना चाहिये, सुन (पढ़) रहे हैं ना अनिलजी ? मानस वाली कहानी में ऐसा किया जा सकता था!

आइये तो आपको इस तरह अपने लेख की मुख्य़ लाईनों को अलग से दिखाने का तरीका बताते हैं।

नीचे चित्र में बताये कोड को कॉपी कर लेवें.. ओह कॉपी कैसे होगा! यह तो इमेज है! चलिये ऐसा करिये नीचे लिखे शब्द highlight.txt पर राइट क्लिक कर save target as .. कर कॉपी कर लीजिये। (लेफ्ट क्लिक करने पर परिणाम दिखाई देगा)

highlight.txt

Scan-Ink1

और अपने लेख में कहीं भी सही जगह देख कर पेस्ट कर दीजिये! यह चित्र देखिये मैने अपनी महफिल की इस पोस्ट में इसका उपयोग किया है।

2

भाई जहाँ हमने एक महान ब्लॉगर की तारीफ करी है आप मत कर दीजियेगा,….वहाँ अपने लेख की खास लाईने चेंप दीजियेगा। .. वैसे करना चाहें तो हमें कोई आपत्ति नहीं! ;)

अब कोड में बदलने योग्य बातें

  1. border-top: 7px और border-bottom: 7px यह आपके द्वारा दिखाई जाने वाली मुख्य लाईनों के उपर और नीचे वाली लाईन है इसे आप 8 9 या और ज्यादा कर मोटी कर सकते हैं अगर पतली करना चाहें तो 6 5 या 4 कर सकते हैं।
  2. solid rgb(192, 138, 100) यह लाईन का कलर कोड है आप इसे जिस रंग में रंगना चाहें रंग सकते हैं। क्या कहा कलर के नंबर कोड?… जी वह भी आप यहाँ से ले सकते हैं।
  3. font size: 12pt तो आप समझ ही गये होंगे, यह हाईलाईट किये जाने वाले अक्षरों की साईज है इसे भी आप अपने हिसाब से कम ज्यादा कर सकते हैं।
  4. width:200px यह खिड़की की साईज है, आप इसे मुख्य लाईनों के हिसाब से छोटा या बड़ा कर सकते हैं।
  5. text-align: center इसमें center की जगह left या right करने पर खिड़की में लिखी लाईनों को दायें या बायें किया जा सकेगा।

कई बार ऐसा होता है कि खिड़की में दिखाई जाने वाली मुख्य लाइने बहुत ज्यादा होती है और उन्हें एक साथ दिखाने पर बॉक्स की साइज बहुत बड़ी हो जाती है जो भद्दा दिखता है ऐसे में हम मुख्य लाइनों को नीचे से उपर की और या उपर से नीचे की और घूमता हुआ भी दिखा सकते हैं…. कैसे?

बस मुख्य लाईने के पहले यह कोड चेप दीजिये और पूरे कोड अंत में </marquee> लिख दीजिये। ऐसा करने से उपर और नीचे की लाईन अपनी जगह पर रहेगी पर उसमें लिखी लाईनें नीचे से उपर की तरफ घूमती दिखाई देगी।

Scan-ink-2

और भी कई तरह के बदलाव किये जा सकते हैं मसलन उपर नीचे की लाईनों को हटा कर एक बॉक्स में मैटर को दिखाना, बेकग्राउंड कलर दिखाना, इमेज दिखाना आदि लेकिन वह सब और कभी……..

Posted in तकनीकी, हस्त चिट्ठाकारी, technology | 34 Comments »

फायरफॉक्स वाले भी ब्लॉगरोल सुधारें

Posted by सागर नाहर on 24, अक्टूबर 2007

मैने अपनी पिछली प्रविष्‍टी में मैने ब्लॉगरोल को घूमता हुआ दिखाने के लिये एक HTML कोड बताया था जिसको अपनने चिट्ठे के साईडबार में जोड़ देने से ब्लॉग रोल घूमने लग जाता था। उस पोस्ट में दो परेशानी थी पहली यह कि यह कोड फायरफोक्स में नहीं चलता था। और दूसरी यह कि बहुत ज्यादा तकनीकी हो गई थी, रही कसर वर्डप्रेस ने कोड अपनी सुविधा के अनुसार बदल कर करदी।:(

मुझे कई मित्रों ने चैट और मेल पर बताया कि वे इस कोड को अपने चिट्ठे पर लगाने की कोशिश कर रहे है परन्तु अभी तक सफल नहीं हुए; तो कुछ मित्रों की परेशानी यह थी कि वे सिर्फ फायरफाक्स प्रयोग करते हैं। तो आखिर बहुत मेहनत के बाद एक ऐसा कोड मिल ही गया जिसको ब्लॉगरोल के साथ जोड़ने पर फायरफोक्स में भी चिट्ठे को देखने पर ब्लॉगरोल घूमता हुआ नजर आयेगा।

जब में इस कोड पर कई घंटे प्रयोग करने के बाद सफल नहीं हो पाया तब अमित गुप्‍ता जी मदद के लिये सामने आये और उन्होने एक कोड बताया जिससे कुछ हद तक बड़े ब्लॉगरोल की समस्या हल हो जाती थी। इस कोड को जोड़ने पर ब्लॉगरोल के साईड में एक स्क्रोलर आ जाता था जिसको घुमाने से ब्लॉगरोल के लिंक उपर नीचे किये जा सकते थे।

चित्र देखिये

1.jpg

मुझे संतोष नहीं था, मैं चाहता था ब्लॉगरोल का यह कोड फायरफोक्स में चलने के साथ साथ उनके लिंक भी नीचे से उपर या उपर से नीचे घूमते हुए होने चाहिये ताकि पाठक को (स्क्रोल) घुमाना ना पड़े।

आखिरकार थोड़ी और मेहनत करने के बाद मैने अमित जी के दिये कोड को और मेरे पिछले कोड को मिला दिया और नया कोड जो बना वह फायरफोक्स में भी बिल्कुल सही चलने लगा। नया कोड इस पोस्ट में सबसे नीचे दिया है।

****

यह पोस्ट लिख ही रहा था कि पिछली पोस्ट पर श्री हरिरामजी की टिप्पणी मिली कि क्या इसमें इमेज को भी इस तरह मर्क किया जा सकता है?

जी हरिरामजी बिल्कुल इसमें इमेज को भी आसानी से मर्क किया जा सकता है। आप सब की जानकारी के लिये मैने हिन्दी चिट्ठाजगत के तीनो एग्रीग्रेटर, रेडियोवाणी और मेरी गीतों की महफिल के लोगो को यहाँ घूमते हुए बताया है, जिससे बहुत सारे लोगो भी हों तो भी साईडबार ज्यादा जगह नहीं घेरेगा।
नीचे लिखे शब्द marquee.txt पर क्लिक कीजिये, कॉपी कीजिये या राईट क्लिक कर save as कर सेव कर लीजिय।अब कॉपी किये हुए कोड यहाँ पेस्ट करने के बाद Fix it पर क्लिक कीजिये और परिणाम देख लीजिये।

marquee.txt

इस कोड में मैने खिड़की की साईज 200px रखी है आप इसे कम या ज्यादा कर सकते हैं। scrollamount=”5″ मैने 5 रखी है आप इसे कम ज्यादा कर घूमने की गति को बढ़ा या घटा सकते हैं।

****

अब नीचे ब्लोगरोल के नये कोड को अपलोड कर रहा हूँ जिसे आप सेव कर या कॉपी कर ( उपर बताये अनुसार) साईडबार में अपने पसंदीदा लिंक से बदल कर लगा दीजिये और देखिये कमाल.. .. अब यह नया ब्लोगरोल फायर फोक्स में भी घूम रहा है।

new-blogroll-1.tx

<div style="width:250px; height:300px; overflow:auto; white-space:normal;">
  <div class="widget-content">
<marquee direction="up" onmouseover="this.stop()" width="100%" onmouseout="this.start()" scrollamount="5" height="150" align="center">

     <ul>
    <li><a href="http://www.epandit.blogspot.com/" target="_blank">ई- पण्डित</a></li> 
<li><a href="http://mahaphil.blogspot.com" target="_new">गीतों की महफिल</a></li>
<li><a href="http://hindini.com/fursatiya/" target="_new">फुरसतिया</a></li>
<li><a href="http://diaryofanindian.blogspot.com" target="_new">अनिल रघुराज की डायरी</a></li>
<li><a href="http://kakesh.com" target="_new">काकेश की कतरनें</a></li>
<li><a href="http://jitu.info/merapanna" target="_new">जीतू का पन्ना</a></li>
<li><a href="http://udantashtari.blogspot.com" target="_new">उड़नतश्तरी</a></li>
<li><a href="http://www.kalpana.it/hindi/blog" target="_new">जो डॉ सुनील ही कह सके</a></li>
   <li><a href="http://ankurthoughts.blogspot.com//" target="_blank">अंकुर गुप्ता</a></li>
<li><a href="http://raviratlami.blogspot.com/" target="_blank">रवि रतलामी</a></li>
</ul>
</marquee></div>
</div>

इन दोनो कोड का चलता फिरता और घुमता हुआ नमूना आप मेरे इस प्रयोग चिट्ठे पर देख सकते हैं।

इस पोस्ट को लिखने में मदद करने के लिये अमित जी का बहुत बहुत धन्यवाद।

Posted in तकनीकी, technology | Tagged: , , , , | 11 Comments »

आपके चिट्ठे का ब्लॉगरोल बहुत बड़ा है? आईये उसे घूमता बनायें

Posted by सागर नाहर on 18, अक्टूबर 2007

हिन्दी चिट्ठाजगत में ब्लॉगरोल का महत्व का बड़ा महत्व है। हम अपने चिट्ठों के साईडबार में अपने पसंदीदा चिटठों का या अपने पसंदीदा साईटस के लिंक देते हैं। कई बार यह लिस्ट इतनी लम्बी हो जाती है कि दूसरे चिट्ठों की लिंक या दूसरी महत्वपूर्ण लिंक बहुत नीचे चले जाते हैं।

मैने बहुत दिनों तक इसका उपाय खोजा कि सारे चिट्ठे भी रहें और जगह भी कम घेरे। मुझे आखिरकार कल इसका इलाज मिल ही गया।

कल पूरा दिन इसके पीछे बर्बाद करने के बाद मैने पहले रेडियोनामा पर इसका प्रयोग किया और सफल रहा तो मन हुआ कि यह प्रयोग आप सबको बताना चाहिये।

तो प्रस्तुत है आप सबके लिये यह काम का और मजेदार तरीका जिससे आपके साईडबार में दिये ब्लॉगरोल के लिंक उपर या नीचे घूमने लगेगा और बहुत ही कम जगह रोकेगा। जिससे आपको और भी ज्यादा लिंक, कोड या फोटो लगा सकते हैं।

सबसे पहले अपने ब्लॉगर में जाकर Dashboard- Layout – Add and Arrange Page Elements में जाकर एक HTML/Java Script वाली खिड़की खोल लेवें। और नीचे बताये गये दोनों कोड को कॉपी कर लेवें और उस खिड़की में पेस्ट कर लेवें।

चूंकि wordpress.com HTML कोड अपने चिट्ठों पर नहीं बताने देता इसलिये मैने आगे पीछे तीर के निशान नहीं लगाये है सो आप उनके कोड के पहले < और सबसे अन्त में > लगा देवें।


 marquee align="center" height="200" width="100%" direction="up" scrollAmount="3" onmouseout="this.start()" onmouseover="this.stop()"</pre>
<pre>यहाँ लिंक लिखें।</pre>
<pre>इस कोड में जितनी जगहों पर pre  लिखा है उन्हें हटा देवें wordpress.com  में यह अपने आप आ जाता है</ul></pre>
<pre></marquee></pre>
<pre>


अब इस कोड के बाद अपने पसंदीदा चिट्ठों के लिंक नीचे बताये अनुसार लिख लेवें। उदाहरण के लिये मैने मेरे चिट्ठे का भोमियो का लिंक लगाया है। आप चाहें तो प्रयोग के लिये इसे ही कॉपी कर सकते हैं, लिंक अपने चिट्ठे का जरूर बदले देवें।:) कॉपी करने के लिये कोड के उपर लिखे Copy to clipboard पर क्लिक करें। या आप इसे सीधे नोटपैड में खोलना चाहें तो view plain पर क्लिक करें।



<li><a href="http://bhomiyo.com/en.xliterate/nahar.wordpress.com>Roman </a></li>

<li><a href="http://bhomiyo.com/gu.xliterate/nahar.wordpress.com>Gujarati</li</a>>


अब कोड को बन्द करने के लिये </li> के नीचे</ul> </marquee> लिख कर कोड को बन्द कर देवें। साईडबार की HTML विन्डो को सुरक्षित कर बन्द कर देवें। और

अब प्रीव्य़ू देखें। आपके साईड बार के लिंक उपर की तरफ चल रहे हैं। आप माऊस के तीर को उसके पास लेकर जायेंगे तो वह रुक जायेगा, ताकि आप अपने पसंदीदा चिट्ठे/ लिंक पर क्लिक कर सकें।फायरफोक्स में लिंक उपर नीचे घूमते हुए नहीं दिख रहे, दो दिन की माथा पच्ची के बाद भी इसका हल नहीं मिला, कोई जानकार बंधू अगर इसका निराकरण बता सके तो अच्छा होगा।

ध्यान देने योग्य बातें:

  1. भोमियो का लिंक वर्डप्रेस.कॉम में लिखने के बाद जब उसे सेव करते हैं तो वह अपने आप बदल जाता है और लम्बा हो जाता है। अत: आप कोड वही प्रयोग करें जो आप पहले से कर रहे हैं। इस पोस्ट का उद्दॆश्य सिर्फ लिंक को मर्क करना है, सो आप लिंक देते समय सावधानी रखें।

  2. सबसे पहली खिड़की में बताये कोड में 200 की जगह 300 या और कम ज्यादा करने से खिड़की की साईज छोटी या बड़ी होगी।
  3. direction="up" की जगह Down लिखने से लिंक उपर से नीचे की और घूमेंगे। आप चाहें तो इसी तरह दायें बायें भी घुमा सकते हैं परन्तु उससे खिड़की की साईज बड़ी करनी पड़ेगी, और इस कोड को लिखने का कोई अर्थ नहीं रहेगा। इसलिये आप उपर या नीचे ही पसन्द करें।
  4. इसी तरह scrollAmount="3" में 3 की बजाय 2 या 1 लिखने से लिंक के घूमने की गति धीमी होगी और 4-5 या ज्यादा लिखने से गति तेज होगी।

पुनश्‍च:( दिनांक 23.10.2007)

लेख लिखने के बाद लगा कि   बहुत से चिट्ठाकार   इस तरह कोड को कॉपी कर सुधार कर अपने चिट्ठे पर नहीं लगा पायेंगे उनकी सुविधा के लिये कुछ लिंक जोड़कर में फाइल को यहाँ अपलोड कर रहा हूँ, बस आप  नीचे एक राइट क्लिक कीजिये और Save Link as पर क्लिक कर कोड को सेव कर लीजिये। लेफ्ट क्लिक करने पर घूमते हुए ब्लॉगरोल  का प्रीव्यू दिखेगा।

new-blogroll-code.txt

Posted in तकनीकी, technology | Tagged: , , , , | 21 Comments »

अपने कम्प्यूटर पर जीमेल ड्राईव बनायें

Posted by सागर नाहर on 29, सितम्बर 2007

Gmail Drive on your Computer

सबसे पहले इस तस्वीर को ध्यान से देखें

G1

मेरे कम्प्यूटर की हार्ड डिस्क पर अन्य पार्टीशन के साथ जीमेल ड्राईव भी दिख रहा है, आप भी इस तरह अपने कम्प्यूटर पर जीमेल का पार्टीशन बना कर 2000Mb (2Gb) फाईल इस पार्ट पर स्टोर कर सकते हैं।

यह कैसे होता है?

यह एक छोटे से (146Kb) जी मेलड्राईव शेल एक्सटेंशन (GMAIL DRIVE SHELL EXTENSION) को अपने कम्प्यूटर पर संस्थापित करने से होता है। यह एक्सटेंशन आपके जीमेल खाते से आपको फाइल स्टोरेज करने की सुविधा उपल्बध करवाता है, और आपके कम्प्यूटर के माई कम्प्यूटर में एक ड्राईव बना देता है जो कि वास्तव में virtual ही होता है। आप उसे अपने जीमेल खाते से लोगिन कर खोल सकते हैं और अपनी फाईलों को संरक्षित कर सकते हैं।जब आप जब लोगिन कर खोलने के बाद आसानी से फाईल को कॉपी पेस्ट या ड्रेग एन ड्रॉप कर सकते हैं , चित्र देखिये

G2

जब आप इस में कोई फाईल स्टोर करते हैं तब आपको अपने जीमेल खाते में एक मेल मिलती है, जिसमें यह फाईल अटैच होती है।

ध्यान देने योग्य बातें:

यह एक्सटेंशन अभी बीटा में है, या यों कहिये अभी प्रयोग के अधीन है। यह सुविधा फिलहाल बिल्कुल मुफ्त है पर संभव है कि भविष्य में जीमेल मुफ्त ना हो और तब आपको इस स्टॊरेज के लिये पैसे भी देने पड़ सकते हैं। और यह भी संभव है कि यह सुविधा हटा भी दे। फाइल की साइज 10Mb से ज्यादा नहीं रखी जा सकती।

यह सुविधा जीमेल की नहीं है, यह एक्सटेंशन सोफ्टपीडिया नामक संस्था ने बनाया है संभव है कि जीमेल इस एक्स्टेंशन को भविष्य में तकनीकी सहायता देना बंद कर दे।

विस्तृत जानकारी आप यहाँ से पा सकते हैं

आईये अपने कम्प्यूटर पर जीमेल ड्राईव बनायें

  1. नीचे दिये बटन कर क्लिक करें जिससे आपके कम्प्यूटर पर gmailfs111.zip नामकी फाइल डाउनलोड होगी।
  2. download-button1.png
  3. इस फाइल को अनज़िप कर Setup पर डबल क्लिक कर अपने कम्प्यूटर पर संस्थापित कर लें।
  4. My Computer में जायें वहाँ आपको जीमेल ड्राईव नजर आयेगा।
  5. उस पर डबल क्लिक करें, उपर चित्र क्रमांक २ वाली खिड़की खुलेगी, अपने जीमेल खाते से लोगिन करें।
  6. अपनी फाईल को कॉपी कर इसमें पेस्ट कर दें।
  7. अपना जीमेल चैक करें वहाँ आपको मेल मिल चुकी है।

चिट्ठाजगत Tag: तकनीकी, जीमेल, Gmal

Technorati Tag: , ,

Posted in तकनीकी | 11 Comments »

 
Follow

Get every new post delivered to your Inbox.